Total Visitors : 5 7 8 6 7 1 9

सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर गुस्से का इजहार ...

भारत बंद आज...

केंद्रीय ट्रेड यूनियनों के आह्वान पर 8 जनवरी को होने वाली राष्ट्रव्यापी हड़ताल की तैयारी में मंगलवार को बिजली बोर्ड के डिवीजन कार्यालय पर सर्व कर्मचारी संघ, सीआईटीयू व रिटायर्ड कर्मचारी संघ के पदाधिकारियों ने रैली निकाली। कर्मचारी मोटरसाइकिल पर सवार होकर शहर में प्रदर्शन करते हुए बस स्टैंड पहुंचे तथा वहां से वापस बिजली बोर्ड पहुंच कर प्रदर्शन का समापन किया। जिला प्रधान राजेश शर्मा की अध्यक्षता में आयोजित प्रदर्शन का संचालन जिला सचिव योगेश शर्मा ने किया। इस दौरान कर्मचारियों ने कंपनियों के निजीकरण का विरोध करते हुए सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर गुस्से का इजहार किया।
कर्मचारियों को संबोधित करते हुए राजेश शर्मा ने कहा कि आज देश की मेहनतकश जनता का जीवन चौतरफा संकटों से घिर गया है। तमाम संघर्षों और शहादतों से हासिल किए गए श्रम कानूनों को चार कोड बिल लाकर मालिकों के पक्ष में बदल दिया गया है। 21000 रुपये न्यूनतम वेतन की मांग को खारिज करके केंद्र सरकार ने 4824 रुपये न्यूनतम वेतन तय कर दिया। पक्के रोजगार को खत्म करके कॉन्ट्रेक्ट, डेलीवेज व फिक्स टर्म स्कीम पर रोजगार देने का फैसला किया जा रहा है। रेलवे, बीपीसीएल, एमटीएनएल, बीएसएनएल, एयर इंडिया, बिजली, परिवहन, देश की रक्षा सामग्री बनाने वाली कंपनियों के निजीकरण की तैयारी हो चुकी है। 

कर्मचारियों की पुरानी पेंशन बहाली की मांग को खारिज किया जा रहा है। प्रदेश सरकार पंजाब के समान वेतन देने के अपने वादे से मुकर रही है। नेताओं ने मांग की कि एक्स ग्रेशिया रोजगार स्कीम में लगाई गई शर्तों को हटाया जाए तथा कैशलेस मेडिकल सुविधा को वास्तविक खर्च के आधार पर लागू किया जाए। सरकार द्वारा आंगनबाड़ी व आशा वर्कर के मानदेय में की गई बढ़ोतरी को सरकार ने लागू नहीं किया है। ग्रामीण सफाई कर्मचारियों व चौकीदारों का बढ़े हुए मानदेय की अदायगी नहीं की जा रही है। जिले में क्रेच सेंटरों को बंद किया जा रहा है। केंद्रों पर कार्यरत वर्करों को महीनों से मानदेय नहीं दिया जा रहा है।
    
बैठक में रोडवेज कर्मचारियों की 8 जनवरी की निजीकरण के खिलाफ राष्ट्रव्यापी हड़ताल को सफल बनाने के लिए नेताओं ने बताया कि सरकार ने लगभग चार सौ स्कूलों में विज्ञान की कक्षाएं बंद कर दी हैं तथा कम छात्रों का बहाना बना कर स्कूलों को बंद किया जा रहा है। प्रदर्शन में बिजली बोर्ड के सर्कल सचिव जितेन्द्र तेवतिया, ब्लॉक सचिव हरकेश सौरोत, देवीसिंह सेजवार, बनवारीलाल, दिवाकर, महेश शर्मा, शिवराम कूंडु, पप्पु, रामजीत राणा, गोपाल बहादुर, जितेन्द्र, रमेश चन्द, भारत मौजूद थे। 

इसी प्रकार हथीन में ऑल हरियाणा पावर कारपोरेशन वर्कर यूनियन के आह्वान पर 8 जनवरी को होने वाली राष्ट्रव्यापी हड़ताल की तैयारी की समीक्षा के लिए बिजली बोर्ड हथीन के बैठक की। प्रधान प्रेम सहरावत की अध्यक्षता में आयोजित बैठक का संचालन यूनिट सचिव वेदपाल तेवतिया ने किया। बैठक में प्रदेश उपमहासचिव रमेश चंद, रवि, पदम, जीतराम, राशिद, रमेश, हरेंद्र, गंगादत्त, जैकम, विनोद  मौजूद थे। 

Related News

Leave a Reply