Total Visitors : 8 0 6 4 0 3

डायन बता तीन महिलाओं के साथ किया गया अमानवीय व्यवहार ...

बिहार में डायन का आरोप लगाकर तीन महिलाओं के बाल काटकर मल खिलाने के मामले में केस दर्ज, 9 लोग हुए गिरफ्तार


ADG पटना ने बताया है कि इस अमानवीय व्यवहार के मामले को पुलिस ने संज्ञान में लिया है। पुलिस के अनुसार 15 से अधिक व्यक्तियों के खिलाफ नामजद कांड दर्ज करके 9 व्यक्तियों की अभी तक गिरफ्तारी की जा चुकी है।

पटना: बिहार के मुजफ्फरपुर जिले के औराई प्रखंड में हथौड़ी गांव से एक शर्मनाक मामला सामने आया है। इस गांव से जुड़ा एक एक वीडियो तेजी से वायरल हुआ है, जिसमें गांव के लोग तीन महिलाओं और एक पुरुष को तालिबानी अंदाज में सजा देते दिख रहे हैं। इसमें डायन होने के शक के आधार पर ग्रामीणों ने तीन महिलाओं को जमकर पीटा और उनका बाल काट कर पूरे गांव में घुमाया। बताया जा रहा है कि गांव के लोगों ने पंचायात कर ऐसे घटना को अंजाम दिया है। 

कथित पंचों ने तीन महिलाओं के बाल काट दिए। इसके बाद महिलाओं को गांव में घुमाया और मल तक खिलाया। यही नही, बचाने आए एक व्यक्ति को भी मारपीट कर मल खिलाया गया। बताया जाता है कि वारदत का वीडियो बनाकर कुछ लोगों ने वायरल कर दिया। घटना सोमवार की बताई जा रही है। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। कथित पंचों की धमकी से पीडितों ने गांव छोड़ दिया है. हथौड़ी के गांव की महिला व उसकी दो रिश्तेदार के साथ घटना हुई है। 

रिश्तेदार मीनापुर इलाके की बताई जा रही है। वहीं, एएनआई के अनुसार इस मामले में जितेंद्र कुमार, ADG पटना ने बताया है कि इस अमानवीय व्यवहार के मामले को पुलिस ने संज्ञान में लिया है। उनके अनुसार 15 से अधिक व्यक्तियों के खिलाफ नामजद कांड दर्ज करके 9 व्यक्तियों की अभी तक गिरफ्तारी की जा चुकी है। ये 9 वो लोग थे जो इस कांड को करने में सक्रिय रूप से शामिल थे।

लॉकडाउन के बाद भी भारी भीड़ जुटी

इस मामले में सबसे खास पहलू है कि लॉकडाउन के बाद भी भारी भीड़ जुटी और इस वीभत्स घटना को अंजाम दिया गया। घटना के संबंध में बताया गया कि गांव के कुछ लोगों ने तीनों महिलाओं पर तंत्र-मंत्र सीखने का आरोप लगाकर पंचायत बुलाई गई थी। वहां कथित पंचों ने बाल काटने व गंदा खिलाने का फरमान सुनाया और फिर गांव वालों ने ऐसा ही किया। इस दौरान महिलाएं खुद को निर्दोष बताती रहीं और छोडने का गुहार लगाती रहीं। पर किसी ने नहीं सुनी और भीड़ में शामिल कुछ लोग उन्‍हें डायन कहकर पीटते रहे, इसके बाद महिलाओं के बाल काटकर गांव में घुमाया गया। 

बताया जा रहा है कि कथित पंचों ने पुलिस के पास जाने पर परिवार को गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी, इसके बाद महिलाएं गांव छोडकर चली गईं।

इससे पहले वीडियो सामने आने के बाद हथौड़ी थानेदार जितेंद्र देव दीपक का कहना था कि उन्हें घटना की जानकारी नहीं है। पीड़ितों की ओर से आवेदन मिलने पर कार्रवाई की जाएगी। वहीं, एएसपी पूर्वी अमितेश कुमार ने कहा कि इस प्रकार की शिकायत किसी स्तर पर नहीं की गई है. वीडियो की जांच करायी जा रही है। वीडियो सत्यापन के बाद आगे की कार्रवाई होगी। इस मामले को दबाने वालों पर भी पुलिस कार्रवाई करेगी।

Related News

Leave a Reply