Total Visitors : 5 7 8 6 7 6 6

उपराज्यपाल अनिल बैजल ने रद्द किया केजरवाल सरकार का आदेश ...

डीडीएमए के चेयरपर्सन के तौर पर मिले विशेष अधिकारों के तहत उपराज्यपाल ने दिल्ली सरकार के फैसले को पलटा

दिल्ली के मुख्मंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोना महामारी के दौरान दिल्ली वासियों के लिए स्वास्थ विभाग को दिए गए आदेश,जिसमे कहा गया था दिल्ली के सरकारी व प्राइवेट अस्पतालों में केवल दिल्ली वासियों का ही इलाज होगा। उपराज्यपाल ने अधिकारियों को दिए निर्देश में कहा कि, बाहरी राज्य के किसी भी व्यक्ति को इलाज के लिए मना नही  किया जाए।

मुख्मंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोना महामारी के दौरान दिल्ली के सरकारी व प्राइवेट अस्पतालों में केवल दिल्ली वासियों का ही इलाज किया जाए, यह घोषणा रविवार को ही की गई थी। दिल्ली मुख्यमंत्री ने अपने आदेश में कहा था कि,दिल्ली में केन्द्र सरकार द्वारा संचालित अस्पतालों में इस तरह का कोई भी प्रतिबन्ध नहीं होगा, यदि दूसरे प्रदेशों के लोग कुछ विशेष तरह के ऑपरेशन के लिए दिल्ली आते हैं तो उन्हें निजी अस्पतालों में इलाज कराना होगा।

उपराज्यपाल अनिल बैजल जो की डीडीएमए के चेयरपर्सन भी है और इसी  के आधार पर सभी अधिकारियों को निर्देश दिया है कि कोई भी व्यक्ति जोकि दिल्ली का निवासी हो या किसी अन्य प्रदेश का जो भी कोरोना वायरस से ग्रस्त हो उसके इलाज के लिए कोई भी अस्पताल मना नहीं करेगा। इस फैसले के बाद अब दिल्ली के सभी अस्पतालो में हर किसी का इलाज हो सकेगा।

Related News

Leave a Reply