Total Visitors : 3 9 4 8 5 5 4

अंडमान की दुर्लभ जनजाति पर मंडराया खतरा ...

दुर्लभ जनजाति पर कोरोना वायरस का कहर टूटा

पोर्ट ब्लेयर: कोरोना वायरस का कहर अंडमान निकोबार द्वीप समूह में एक दुर्लभ जनजाति पर टूटा है। अब इसके अस्तित्व पर खतरा मंडरा रहा है। इस जनजाति में करीब 50 लोग ही बचे हैं, इनमें से भी 10 को कोरोना हो गया। ग्रेट अंडमानी जनजाति के दस लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए है। अधिकारियों ने गुरुवार को यह जानकारी दी। संघ शासित प्रदेश अंडमान निकोबार द्वीप समूह में इस जनजाति के लोगों की संख्या बहुत ही कम रह गयी है।

हाल ही में पोर्ट ब्लेयर में इस जनजाति के लोगों के छह सदस्यों के संक्रमित होने के बाद स्वास्थ्य अधिकारियों ने स्ट्रेट द्वीप पर एक दल को भेजा था। स्वास्थ्य विभाग के उप निदेशक और नोडल अधिकारी अविजित रॉय ने कहा कि 37 नमूनों की जांच की गई थी जिनमें से ग्रेट अंडमानी जनजाति के चार और सदस्यों में संक्रमण की पुष्टि हुई।

रॉय ने कहा कि संक्रमितों में से कुछ लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है और कुछ को घर में पृथक-वास में रखा गया है। अधिकारियों ने कहा कि इस जनजाति के 50 से कुछ अधिक लोग ही बचे हैं। अंडमान निकोबार द्वीप समूह में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण के 2,985 मामले सामने आ चुके हैं और कोविड-19 के 2,309 मरीज ठीक हो चुके हैं। अब तक संघ शासित प्रदेश में कोविड-19 के 41 मरीजों की मौत हो चुकी है।

Related News

Leave a Reply