Total Visitors : 2 3 3 1 4 5 9

40 से अधिक स्वस्थ रोग मुक्त मुस्लिम देंगे प्लाज़्मा ...

एक हक्कीत यह भी...

केंद्र सरकार के द्वारा गुजरात स्वस्थ अधिकारियों को प्रायोगिक आधार पर रोगमुक्त प्लाज़्मा चढ़ाने की थैरेपी के उपयोग की अनुमति दी, जिसका उद्देश्य सीरियस स्थिति के मरीजों की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाना है। हाल ही में कई प्रयोग चल रहे हैं।

वड़ोदरा कोविड19 केयर के एक अस्पताल से कोरोना वायरस के संक्रमण से मुक्त हो चुके 40 से अधिक मुस्लिम समाज के रोगियों से दुसरे मरीजों के उपचार के लिए अपना रक्त प्लाज़्मा दान करने के लिए कहा है तो उन्होंने इसके लिए सहमति जताई है।
आपको बताते चलें स्वस्थ हो चुके रोगियों के प्लाज़्मा में एंटीबॉडी होते हैं जो अन्य रोगियों में चढ़ाने पर रोगी को संक्रमण से लड़ने में बहुत उपयोगी साबित हो रहा है।

मुस्लिम समुदाय के सम्मानित व्यक्ति ज़ुबैर गोपलनी से हुई वार्ता में गोपलनी ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग व प्रशासन के अथक प्रयासों के कारण ही इतने लोग रोगमुक्त हुए। जिसमें प्रमुख तौर पर अधिकारियों द्वारा दिए गए अच्छे भोजन व स्वास्थ विभाग की देख रेख है। अब यदि हम देश के किसी भी काम आ सकें तो हम इसे अपने रब के माध्यम से दी गई इस रहमत का शुक्र अदा कर सकेंगे। उन्होंने बताया के कोविड 19 देखभाल सेन्टर से रोगमुक्त हुए 40 से अधिक मुस्लिम समाज के लोग अपना प्लाज़्मा दान देने को तैयार हैं।

Related News

Leave a Reply