Total Visitors : 6 4 0 7 7 9

विवाह के 17 दिन बाद 18 वर्षीय विवाहिता हुई गर्भवती ...

थाने पहुंच सुनाई आपबीती

उन्नाव में शनिवार को एसपी की चौखट पर सामूहिक दुष्कर्म का एक ऐसा मामला पहुंचा, जिसने रिश्तों को शर्मशार कर दिया। 18 वर्षीय विवाहिता ने अपने पिता, सगे व चचेरे भाइयों के अलावा गांव के पूर्व प्रधान समेत 10 लोगों पर पिछले तीन साल से सामूहिक दुष्कर्म करने और देह व्यापार कराने का आरोप लगाया है।

उन्नाव में शादी के 17 दिन बाद बच्चे को जन्म देने वाली महिला द्वारा अपने पिता, भाई व पूर्व प्रधान समेत 10 लोगों पर दर्ज कराए गए सामूहिक दुष्कर्म मामले की जांच के लिए एसपी ने विशेष जांच दल गठित किया है। साथ ही सीओ सिटी को विवेचना का पर्यवेक्षण करने का निर्देश दिया है। जांच टीम ने दो नामजद आरोपियों को उठाया है। सोमवार को पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल भी कराया है। 
सदर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव निवासी 18 वर्षीय महिला ने 28 दिसंबर को एसपी को शिकायती पत्र देकर अपने पिता, भाई, चचेरे भाई व गांव के पूर्व प्रधान समेत 10 लोगों पर सामूहिक दुष्कर्म का आरोप लगाते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पीड़िता के अनुसार वह लखनऊ के बंथरा थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली है। आरोप है कि 15 साल की उम्र से ही उसके पिता, भाई व पूर्व प्रधान समेत अन्य उसके साथ सामूहिक कर रहे थे।

 उसे देह व्यापार में भी धकेल दिया। अप्रैल 2019 में गर्भ ठहरने की जानकारी पर पिता व पूर्व प्रधान ने 19 अप्रैल 2019 को उसकी शादी उन्नाव सदर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में करा दी थी। विवाह के 17 दिन बाद 6 मई को प्रसव पीड़ा शुरू होने पर उसे ससुरालियों को सच बताना पड़ा। पीड़िता ने अपने पिता व अन्य आरोपियों पर ससुर की हत्या कराने की कोशिश का भी आरोप लगाया। 

एसपी विक्रांतवीर के निर्देश पर महिला एसओ सुनीता चौरसिया को रिपोर्ट दर्ज करने के निर्देश दिए थे। जिस पर एसओ ने पीड़ित महिला की तहरीर पर पिता, भाई व पूर्व प्रधान समेत 10 लोगों पर सामूहिक दुष्कर्म, मारपीट, व जान की धमकी देने की रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू की। एसपी ने मामले की जांच के लिए सीओ सफीपुर पवन कुमार के नेतृत्व में छह सदस्यीय विशेष जांच टीम गठित की है।

जिसमें सर्विलांस सेल के लोगों को भी शामिल किया गया है। वहीं, एसपी ने सीओ सिटी यादुवेंद्र यादव को महिला एसओ द्वारा की जा रही विवेचना का पर्यवेक्षण करने का निर्देश दिया है। पुलिस सूत्रों के अनुसार आरोपियों में दो को शनिवार रात लखनऊ से उठाया गया है। वहीं, दुष्कर्म पीड़िता का सोमवार को मेडिकल भी कराया गया है। एसपी विक्रांतवीर ने बताया शीघ्र मामले का पर्दाफाश कर आरोपियों को जेल भेजा जाएगा। 

 

Related News

Leave a Reply