Total Visitors : 7 4 4 1 0 3

दो थानों के सीमा विवाद में घंटो पड़ा रहा ट्रैक किनारे शव ...

 सीमा विवाद में उलझी रही गोविंद नगर और अर्मापुर की पुलिस

कानपुर के अर्मापुर में रविवार को इंसानियत को शर्मसार करने वाला एक मामला सामने आया। गोविंदनगर और अर्मापुर पुलिस सीमा विवाद में उलझी रही और रेलवे ट्रैक किनारे एक युवक का शव दस घंटे तक पड़ा रहा। आखिर में अधिकारियों की फटकार के बाद अर्मापुर पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। शनिवार रात करीब 12 बजे पुलिस कंट्रोल रूम में सूचना मिली कि दादानगर पुल से करीब एक किमी दूर कानपुर-दिल्ली रेलवे ट्रैक पर युवक की ट्रेन से कटकर मौत हो गई है। सूचना मिलने के करीब आधे घंटे बाद गोविंद नगर और अर्मापुर थानों का फोर्स पहुंचा।

वह घटनास्थल को एक दूसरे के थाना क्षेत्र में होने की बात कहकर पल्ला झाड़ने लगे। शव सुबह दस बजे तक ट्रैक किनारे पड़ा रहा। अधिकारियों को इसकी जानकारी हुई तो दोनों थानेदारों को फटकारा। इसके बाद अर्मापुर पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर कार्रवाई की।

गोविंद नगर इंस्पेक्टर संजीव कांत मिश्रा का कहना है कि घटनास्थल अर्मापुर में था। इसलिए कार्रवाई नहीं की गई। वहीं अर्मापुर इंस्पेक्टर का कहना है कि शव की शिनाख्त करवाने के लिए इतनी देर शव पड़ा रहा। मामले में एसएसपी अनंत देव ने बताया कि जांच करवाकर कार्रवाई की जाएगी। 

मृतक की हुई शिनाख्त

युवक की पैंट की जेब से एक आधार कार्ड मिला। उसमें बबलू सिंह सेंगर (25) नाम दर्ज है। अर्मापुर इंस्पेक्टर अजीत वर्मा ने बताया कि मृतक लाहचुरा का पुरवा थाना मालनपुर जिला भिंड (मध्य प्रदेश) का रहने वाला था। संबंधित थाने को सूचना देकर परिवार से संपर्क किया गया है। 

Related News