Total Visitors : 7 4 3 9 7 6

मां को थप्पड़ मारने पर कांग्रेस नेता को मारी थी गोली ...

 महज 15 हजार रुपये को लेकर हुआ था विवाद

कानपुर में चकेरी के कैलाश विहार जाजमऊ में बुधवार को कांग्रेस नेता शोएब की हत्या में पकड़े गए आरोपी रवि यादव ने कहा कि हमलावरों ने उसकी मां को थप्पड़ मार दिया था। यह उससे बर्दाश्त नहीं हुआ और उसने राइफल से गोली चला दी। गोली शोएब के जा लगी, इससे उसकी मौत हो गई।

आरोपी ने पूछताछ में एसपी पूर्वी को बताया कि ठेकेदार के बेटे प्रशांत सिंह यादव और शोएब समेत अन्य साथियों ने घर पर अचानक धावा बोल दिया। वह खुद मार खाता रहा लेकिन मां पर हाथ उठाना उससे देखा नहीं गया। उसका कहना है कि उसने प्रशांत के पिता रणधीर सिंह यादव को बंधक नहीं बनाया था। गेट बंद कर उनसे बात कर रहा था। तभी बंधक बनाने की फर्जी सूचना पर ये लोग उसके घर में घुस आए थे। कांस्टेबल जसवंत सिंह के बेटे रवि ने बताया कि उसने प्रशांत के ठेकेदार पिता रणधीर के बीच 70 हजार रुपये में घर में काम कराने का सौदा हुआ था। रणधीर 50 हजार रुपये एडवांस भी ले चुके थे पर काम नहीं कराया।

20 हजार रुपये और मांग रहे थे। इसी बात पर तनातनी हो गई। रणधीर के जिद करने पर उसने मंगलवार को पांच हजार रुपये और दे दिए थे और बाकी रुपये काम होने के बाद देने की बात कही, लेकिन वह पूरे रुपये लेने की जिद पर अड़े रहे। बुधवार को रणधीर दोबारा रुपये लेने के घर आया। शोरशराबा होने पर उसने गेट बंद कर लिया। तभी उसने अपने प्रशांत को बंधक बनाने की फर्जी सूचना दे  दी। प्रशांत कुछ देर बाद अपने 8-10 दोस्तों के साथ आया और घर पर हमला बोल दिया। बीचबचाव में आई पत्नी को धक्का दे दिया। एक हमलावर ने मां को थप्पड़ मार दिया। इस पर वह कमरे से राइफल लाया और फायर कर दिया। इस गलती का उसे अफसोस नहीं।

एसपी पूर्वी राजकुमार अग्रवाल ने बताया कि इस मामले में रवि के साथ उसकी मां, पत्नी और दो अन्य लोगों के खिलाफ रणधीर ने रिपोर्ट दर्ज कराई है। रवि को गिरफ्तार कर गुरुवार को जेल भेज दिया गया है, वहीं रवि की मां और पत्नी को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

प्रियंका को ट्वीट कर घटना की दी जानकारी

कांग्रेस नेता शोएब की हत्या के मामले में राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा द्वारा किए गए ट्वीट पर पुलिस ने उन्हें रिट्वीट कर घटना की जानकारी दी। पुलिस ने बताया कि आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। दरअसल कांग्रेसी नेताओं ने घटना की जानकारी प्रियंका गांधी को दी थी। इस पर प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर प्रदेश सरकार की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए थे। 

Related News